सावन आया है

सावन ने
तो
जैसे आज
धरती को
खुशहाल किया है।
.....
बादलों ने
गरज कर
भूमिपुत्रों का
आव्हान किया है।
.......
बरसती बूंदों ने
सजनी का
चेहरा
क्या कमाल किया है।
........
खेतों पर
बजते
घुंघरूओं ने
जीवन का
आधार दिया है।
...........
भारत बसता है गांवों में
धरा ने फिर
संदेश दिया है।
..........
©® करन जांगिड़ kk

टिप्पणियाँ

  1. waah...
    shaandar..
    bahut khoob..,
    भारत बसता है गांवों में
    धरा ने फिर
    संदेश दिया है।

    उत्तर देंहटाएं
  2. waah...
    shaandar..
    bahut khoob..,
    भारत बसता है गांवों में
    धरा ने फिर
    संदेश दिया है।

    उत्तर देंहटाएं
  3. बढ़िया...नियमित लिखिये

    हम आपका अभिनन्दन करते हैं. अनंत शुभकामनायें. साधुवाद..
    #हिन्दी_ब्लॉगिंग

    उत्तर देंहटाएं

एक टिप्पणी भेजें